सेन्ट एम.पी.कृषको हेतु दुधारु पशुओं (लघु इकाई)का वित्तपोषण योजना

CentMP Dairy Loan:

 

प्रयोजन

दुधारु पशुओं (लघु इकाई) हेतु वित्तपोषण
पात्रता

 ऐसे कृषक जिनके पास स्थानिय निर्मित पशु शेड उपलब्ध हो एवं चारा उगाने हेतु पर्याप्त भूमि उपलब्ध हो।
 पशुपालन का पूर्ण अनुभव हो।

ऋण की प्रकृति

सावधि ऋण 

ईकाई लागत
पशु ईकाई देशी गाय क्रासबीड गाय मुर्रा भैंस देशी भैंस
दुधारू पशु 30500 55500 61000 51000
परिवहन 1953 2022 1906 1906
बीमा 3547 6478 7094 7094
योग 36000 64000 70000 60000
नोटः-क्रासबीड गाय एवं मुर्रा भैस का प्रतिदिन दुग्ध उत्पादन 
8 लिटर, देशी गाय का 4 लिटर एव देशी भैस का दुग्ध 
उत्पादन 6 लिटर से कम नही होना चाहिए।

 

मार्जिन

आवेदक से इकाई लागत पर न्यूनतम 10: राशि मार्जिन के रुप में जमा किया जाय।

शुद्ध ऋण राशि

उपरोक्त बिंदु क्र. 4 में दर्शित इकाई लागत का अधिकतम 90: रहेगी। किसी भी परिस्थिति में 2 दुधारु पशु से अधिक की बडी इकाई हेतु वित्तपोषण नही किया जाय।

ब्याज दर 

बी.पी.एल.आर.-1 प्रतिशत

अदायगी

समस्त ऋण राशि मय ब्याज एवं अन्यं व्ययों सहित 60 मासिक किश्तों में वसूली जाय।ऋण वितरण दिनांक से अगले माह से मासिक किश्त देय होगी।

बीमा

बैंक द्वारा प्रदत्त पशुओं का बैंक क्लाज सहित बीमा किया जाय।

अन्य शर्ते

1 पशु बाजार से पशु क्रय समिति के माध्यम से क्रय कराया जाय जिसमें हितग्राही, शाखा प्रबंधक एवं पशु चिकित्सक सम्मिलित हों
2 द्वितिय ब्यात के दुधारु पशु क्रय को प्राथमिकता दी जाय।
3. बिमारीयों के रोकथाम हेतु हितग्राही को पशुचिकित्सालय से संपर्क बनाया रखने हेतु आवश्यक समझाईश दी जाय। 
4. दुसरा दुधारु पशु प्रथम पशु क्रय करने के 6 माह पश्चात प्रदान किया जाय जिससे कि निरंतर नियमित अदायगी सुनिश्चित की जा सकें।

प्रतिभूति/प्राथमिक

ऋण से क्रय किये गये पशुओं का दृष्टिबंधक


• Terms and conditions applicable 

• Please contact nearest branch for details

• ब्याज दर के लिए ब्याज दर लिंक क्लिक करें
• प्रक्रिया शुल्क के लिए सेवा प्रभार लिंक क्लिक कर